NAPUNSAKTA

नामर्दी आज के समय में एक गम्भीर रोग के रूप में उजागर हुआ है। कुछ समय पहले तक यह गुप्त रूप से किसी-किसी पुरूष में पाई जाती थी। अब हमारी जीवनशैली के बदलाव में बहुत सारी विकृतियां आ गई। हमने प्राकृतिक खान पान को छोड़ स्वाद के लिए बनावटी भोजन को लेना शुरू कर दिया जिससे हमारे शरीर को पौष्टिकता मिलनी बंद हो गई और हम शरीरिक व मानसिक रूप से कमजोर होते चले गए। इसी कमजोरी का सबसे बुरा प्रभाव हमारी सैक्सुअल लाईफ पर पड़ा और बहुत से पुरूष नामर्दी का शिकार बन गए। संभोग में शत-प्रतिशत असमर्थ होना ही नामर्दी कहा जा सकता है। मैथुन न कर पाना नपुसंकता का मुख्य लक्षण है। अब आपको नामर्दी से शर्मिंदा होने की जरूरत नहीं है। कुछ कुदरती नपुसंकता को छोड़कर इसका इलाज संभव है। चलिए अब आपको नपुसंकता के बारे में विस्तार बताते है। हम आपको नपुसंकता का आयुर्वेदिक इलाज बताएंगें लेकिन उससे पहले आप ये जान लें कि नपुसंकता क्या है? और इसके लक्षण कारण क्या है।

और पढ़े– जानिएं शीघ्रपतन क्यू होता है।

नपुंसकता क्या है? | NAPUNSAKTA KYA HAI?

नपुंसकता पुरुषों से संबंधित रोग है। नपुंसकता को संभनदोष और इंग्लिश में इरेक्टाइल डिस्फंक्शन कहा जाता है। जब कोई पुरुष यौन संबंध बना रहा होता है उस समय जब उसके लिंग में उत्तेजना नहीं आती या वह उत्तेजना को बनाये रखने में असमर्थ होता है, तो उसे नपुंसकता कहते हैं। अगर यह स्थिति कभी कभी होती है, तो यह समान्य बात होती है। क्योंकि चिंता, तनाव, डर, थकान, मन में हीन भावना इसकी वजह हो सकती है। लेकिन अगर लंबे समय तक हो तो आपको सतर्क होने की जरुरत पड़ती है। इसके अलावा नपुंसकता की शिकायत शरीर में कमजोरी के कारण भी हो सकती है।

और पढ़ेसैक्स लाइफ पर शुगर का क्या असर पड़ता है?

नपुंसकता के लक्षण | NAPUNSAKTA KE LAKSHAN

नपुंसकता के लक्षण इस प्रकार है।

  • मैथुन न कर पाना
  • लिंग में उत्तेजना ना आना
  • संभोग करने में असमर्थ होना
  • सैक्स करने में इच्छा में कमी
  • लिंग समान्य से छोटा हो जाना
  • थोड़े समय के लिए कामोत्तेजना होना
  • देरी से या कम मात्रा में वीर्य निकलना

नपुंसकता के कारण | NAPUNSAKTA KE KARAN

  • चिंता की वजह से
  • बढ़ती उम्र के कारण
  • डायबिटीज होने पर
  • तनाव लेने की वजह से
  • सैक्स के प्रति डर होने से
  • ज्यादा हस्तमैथुन करने से
  • शरीरिक कमजोरी के कारण
  • अधिक मोटापा बढ़ने के कारण
  • ज्यादा कामवासना में लगे रहना
  • अधिक शराब या नशीली दवाओं के सेवन से

और पढ़े –शुक्राणु बढ़ाने का सबसे अच्छा आयुर्वेदिक इलाज

नपुसंकता का आयुर्वेदिक इलाज | NAPUNSAKTA KA AYURVEDIC ILAJ

अगर आप नपुंसकता के शुरूआती स्टेज में ही इसके लक्षणों को पहचान कर डॉक्टर से परामर्श करें तो इसे बहुत ही आसानी से काफी जल्दी ठीक किया जा सकता है। लेकिन देखा गया है कि रोगी डॉक्टर को बताने में हिचक महसूस करता है। क्योंकि उनको लगता है कि यह एक शर्मनाक बात है। लेकिन किसी भी रोगी को ऐसा नहीं सोचना चाहिए।

अगर आप भी नपुसंकता का इलाज करवाना चाहते है तो इस पर आपको मानसिक रूप से भी तैयार होना पड़ेगा और विशेषज्ञों से भी अपनी इस स्थिति को बताना पड़ेगा। आपके शहर पानीपत में अमन क्लीनिक में इसका उपचार आयुर्वेदिक औषधियों से किया जाता है। आप भी इन औषधियों से अपनी नामर्दी से निजात पा सकते हैं। आपकी हर जानकारी यहां गापनीय रखी जाती है। रोगी की संतुष्टि ही Aman Clinic का उद्देश्य है।

Visit our Website for More Detail : http://www.amanclinic.com/

Contact Us – 89504-00073

Address: Aman clinic, near janta sweets sukhdev nagar panipat

Email: amanclinic00073@gmail.com

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments