पीरियड्स सबंधित हर बीमारी का इलाज

मासिक धर्म को महावारी या पीरियड्स के नाम से जाना जाता है। महिलाओं के शरीर में हार्मोनल बदलाव होने की वजह से गर्भाश्य से रक्त और अंदरुनी हिस्से से होने वाले स्त्राव को मासिक धर्म कहते है। मासिक धर्म सबको एक उम्र में नहीं होता। पहले के समय में लड़कियों को यह 17 से 18 वर्ष की उम्र में माहावारी यानी पीरियड्स शुरु होता था। लेकिन आज के समय की गलत जीवनशैली की वजह से यह लड़कियों को 12 साल की उम्र में ही शुरु हो जाते है। पीरियड्स होना एक लड़की के लिए बहुत जरुरी है। इसी की वजह से वह मां बनती है। लेकिन लड़कियों ये तब समस्या लगने लगती है। जब उन्हें पीरियड्स के दौरान बहुत तेज दर्द होती है। कई बार उनकी पीरियड्स मिस हो जाते है। या फिर पीरियड्स अनियमित हो जाते है। कई बार पीरियड्स के दौरान साफ सफाई ना रखने के कारण उन्हें की बीमारियों का भी सामना करना पड़ता है। अगर कोई महिला पीरियड्स से सबंधित किसी समस्या से परेशान है। तो आप हमें अमन क्लिनिक  पानीपत में Aman Clinic In Panipat आकर मिलें।